There was a demand on Twitter about the reinstatement of teachers in Bihar.

बिहार में शिक्षकों की बहाली को लेकर ट्विटर पर उठी मांग।

Spread the love

नावकोठी (बेगूसराय)
बिहार में बड़ी संख्या में शिक्षकों के रिक्त पदों को शीघ्र भरने हेतु बिहार एसटीईटी वर्किंग कमेटी और अन्य संगठनों ने संयुक्त रूप से ट्विटर पर मांग लगातार उठ रही है। सोमवार को बिहार वर्किग कमेटी के नावकोठी प्रखण्ड से सोनू कुमार, आलोक श्रीवास्तव, आनन्द झा,अनन्त कुमार, हरेराम कुमार, दीपक कुमार, दिनेश भारती इत्यादि ने ट्विटर पर ट्रेड करवाया।

#Bihar_Needs_Teachers हैशटैग पूरे भारत में न.1 पर ट्रेंड किया।बताते चलें कि बिहार में लगभग 3 साल से 1.5 लाख शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया अधर में लटकी हुई है,जिससे शिक्षक अभ्यर्थियों में भारी रोष व्याप्त है।अभ्यर्थियों का आरोप है कि सरकार द्वारा  2 साल से आश्वासन के नाम पर सिर्फ ठगा जा रहा है।हाल ही में एक आरटीआई से खुलासा हुआ है कि बिहार में प्राथमिक से लेकर उच्चतर माध्यमिक तक पूरे राज्य में तकरीबन 3.5 लाख शिक्षकों के पद रिक्त पड़े हैं।

इतनी बड़ी संख्या में शिक्षकों का पद रिक्त रहना चिंता का सबब है,साथ ही सरकार के उदासीन रवैया को दर्शाता है।इसपर बिहार सरकार को शीघ्र ध्यान देने की जरूरत है।

dainik24news.com हिन्दी के site के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटर,पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.


Spread the love